पेपर फ्लोवर का पौधा लगाकर बगिया मे चार चाँद लगाएँ | Acroclinum roseum in Hindi

यह एक वार्षिक यानि annual प्लांट है और हर साल इसको दुबारा लगाना पड़ता है , इसकी पतली पत्तियाँ होती हैं और टहनी के टॉप पर डेज़ी की तरह के फूल खिलते हैं जो टच करने पर कागज जैसे लगते हैं ।  Paper Flower in Hindi

इस फूल की सबसे खास बात यह होती है की सूखना स्टार्ट होने के बाद भी यह अपने आकार , रंग और papery texture को लंबे समय तक बना के रखता है इसीलिए इसे घरों मे सजाने के लिए या cut flower के लिए बेस्ट माना जाता है ।

कॉमन नामPaper Flower
वानस्पतिक नामAcroclinum roseum
बीज लगाने का समयSep-Oct
ट्रांसप्लांट करने का समयOct-Nov
फूल खिलने का समयFeb-Mar
फूलों के रंगPink&White Combination
पौधे की ऊंचाई60-70 Semi
सूरज की रोशनीFull
पानी /सिंचाईMedium
किस तरह लगाएँBeddings, Cut Flowers

Acroclinum roseum in Hindi

बीज कब लगाएँ

इनके बीजों को 6 से 8 सप्ताह का समय लगता है पौध तैयार होने मे । पहाड़ी इलाकों मे इसे मार्च से अप्रैल तक इसकी seedling लगा दी जाती है ।

इसके बाद इसे flower bed या किसी गमले मे लगाया जा सकता है । जमीन पर लगा रहे हैं तो यह ध्यान रहे कि कम से 30 सेमी यानि 1 फूट की दूरी पर पौध लगाए पास पास रहने पर अच्छी ब्लूमिंग नहीं होती है ।

मिट्टी कैसी तैयार करें

जमीन में लगा रहे हैं तो जमीन को अच्छे से 1 फुट तक फावड़े से गुड़ाई कर लें , मतलब पूरी क्षेत्र जहां इसे लगाना है वो मिट्टी भुरपुरी और पोरस हो जाए ताकि जड़ों को फैलने का पूरा स्थान मिल जाए।

मिट्टी में अच्छी मात्र में गोबर की खाद भी मिला लें जिससे पत्तियाँ घनी और सेहतमंद बनी रहे  ।

मिट्टी पोषण से भरपूर और नमी रोकने वाली होनी चाहिए , ड्राई कंडीशन मे यह अच्छे फूल नहीं दे पाता है ।

गमले मे लगाने के लिए गार्डेन की मिट्टी , कोकोपीट और गोबर की खाद को बराबर हिस्से मे मिलकर लगाएँ । एक पौधा लगाने के लिए कम से कम 8-10 इंच का गमला बढ़िया रहेगा जिसमे तली मे 3-4 होल अवश्य कर लें ।

Acroclinum roseum in Hindi

सन लाइट Sunlight

इसके लिए कम से कम 4-5 घंटे की direct धूप बहुत आवश्यक है । छायादार जगह पर फूलों की संख्या और क्वालिटी दोनों खराब रहता है ।

पानी Watering

गर्मियों मे हरियाली बनी रहे और पत्तियाँ सूखने न लगे इसके लिए नियमित पानी की आवश्यकता रहती है । मिट्टी चेक करते रहें और उसी अनुसार पानी दें ।

अप्रैल के बाद गर्मी में दिन मे 2 बार पानी देने की जरूरत पड़ सकती है ।

आर्द्रता Humidity

अगर क्लाइमेट dry है तो इसके लिए ज्यादा अच्छा रहता है , humidity बढ्ने पर Paper Flower को दिक्कत होती है ।

खाद Fertilizers

मिट्टी में शुरू मे खाद मिलाने से बीच-बीच में खाद देने की आवश्यकता कम ही रहती है , फिर भी गमले मे लगे पौधों को 15-20  दिन में एक बार liquid fertilizer दिया जा सकता है ।

कीट रोग आदि

फंगल अटैक की संभावना बनी रहती है इससे बचाव के लिए 15-20 दिन पर neem oil को गरम पानी मे मिलाकर छिड़काव किया जा सकता है ।

Acroclinum roseum in Hindi

जरूरी टिप

इसको आप कट फ्लावर की तरह भी इसे use कर सकते हैं , फूल के साथ लगभग सवा फूट तना काटकर उसे किसी flower vase मे डाल दें और पानी भर दें , यह आराम से 1 सप्ताह तक चल जाएगा ।

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट करके जरूर बताएं , और नीचे दिये गए like बटन को जरूर दबाएँ , ऐसे ही पेड़-पौधों और गार्डेन से जुड़ी रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए hindigarden.com से जुड़े रहें , धन्यवाद ।

Happy Gardening..

Leave a Comment