अगर जेड प्लांट नहीं आपके पास तो आज ही ले आयें | jade plant in hindi

jade plant in hindi

जेड प्लांट का वानस्पतिक नाम : Portulacaria afra

फैमिली : Purslanes

जेड प्लांट के कॉमन नेम : बेबी जेड प्लांट , एलिफैण्ट बुश , एलिफैण्ट फूड , ड्वार्फ ज़ेड , मिनिएचर ज़ेड

 

जेड प्लांट का परिचय Jade plant in hindi

जेड प्लांट दक्षिण अफ्रीका का मूल पौधा है , यह बहुत कम केयर के साथ अच्छे से ग्रो होता रहता है ।jade plant in hindi

ऐसा माना जाता है की जेड प्लांट को रखने वाले के साथ गुड लक हमेशा रहता है , वैसे इस बात मे कितनी सच्चाई है ये तो कहा नहीं जा सकता है लेकिन यह जरूर कहा जा सकता है कि इसको रखने से घर में बहुत आसानी से हरियाली को बनाए रखा जा सकता है ।

इसके छोटे हरे रंग के गूदेदार पत्तियाँ बहुत क्यूट लगती हैं । यह हल्के लाल रंग के टहनियों पर निकलती हैं ये टहनीय समय के साथ साथ hard होती जाती हैं ।

जेड प्लांट बोन्साई

बोन्साई बनाने के लिए सबसे आसान पौधा जेड प्लांट है , अगर आप पहली बार बोन्साई प्लांट तैयार करना चाहते हैं तो जेड प्लांट के छोटे पत्तियों और फास्ट ग्रोथ के कारण ज़ेड प्लांट का ही बोन्साई ट्राइ करें ।

jade plant in hindi

ज़ेड प्लांट कहाँ से खरीदें

जेड प्लांट आपके आसपास की नर्सरी पर आसानी से मिल सकता है ।

इसके अलावा आप online jade plant ऑर्डर कर सकते हैं ।

जेड प्लांट की केयर कैसे करें jade plant in hindi

प्रकाश Light

Bright Indirect Light जेड प्लांट की अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी है । जेड प्लांट को अच्छे से फलने फूलने के लिए रोज 4-5 घंटे की अच्छी bright indirect धूप की आवश्यकता रहती है ।

पौधे को गर्मियों की तेज़ direct sunlight से बचा के रखें नही तो इसकी पत्तियाँ जल सकती हैं ।

पानी Water

Elephant bush या जेड प्लांट में पानी डालने के पहले यह देख लें की मिट्टी की ऊपरी सतह सूख गई हो । कभी भी इसकी मिट्टी को बहुत ज्यादा समय तक गीला न रखें अन्यथा जड़ों के खराब होने का खतरा बन सकता है ।

Succulents होने के कारण इसकी मोटी पत्तियाँ स्वयं ही पानी को अवशोषित कर के रख सकती हैं इसलिए अगर कुछ दिन आप इसे पानी नहीं दे पाते तो भी यह खराब नही होगा ।

यहाँ यह ध्यान रखने वाली बात है कि  गर्मी के दिनों में जब तापमान 35 डिग्री से ज्यादा होने लगे जेड प्लांट को पानी की आवश्यकता बढ्ने लगती है , ठंड के मौसम में बहुत कम पानी से भी काम चल जाता है ।

jade plant in hindi

तापमान Temperature

जेड प्लांट की केयर जानने के लिए इसको किस तापमान में रखना है ये जानना बहुत जरूरी है।

20 से 25 डिग्री C का तापमान या कहें एक सामान्य room temperature जेड प्लांट के लिए आदर्श है । अगर ज्यादा तापमान में रखा गया है तो अच्छा ये होगा कि किसी shaded जगह पर रखें जहां indirect bright light आती हो ।

ठंड के मौसम में 5 डिग्री C से नीचे तापमान जाने पर इसको बाहर न रखें अन्यथा ये मर सकता है ।

मिट्टी Soil Mix

Jade plants के अच्छी देखभाल के लिए उसकी मिट्टी या Potting Soil का सही होना बहुत जरूरी है जो नमी को ज्यादा न रोके ।

चूंकि Jade plants के मरने का सबसे बड़ा एक कारण overwatering है इसलिए हमे ऐसी मिट्टी तैयार करना होगा जिसमें Overwatering से बचाव का इंतजाम हो मतलब ऐसी मिट्टी जो Well-drained और Porous हो ।

इन 3 materials का इस्तेमाल एक अच्छे succulents mix के रूप में किया जा सकता है –

1॰ Well drained potting soil

2॰ Coarse Sand (मोटा बालू बिना छाना हुआ)

3॰ Perlite और कोयला के छोटे टुकड़े

Well drained potting soil से मतलब एक अच्छी container gardening soil से है ।

इतनी मेहनत करने से बचना चाहते हैं तो आप online succulents potting mix ऑर्डर भी करके मंगा सकते हैं ।

इसके अलावा आपको कहीं से Cinder या खंगर मिल जाए तो ये बहुत ही अच्छा potting मिक्स के रूप मे use हो सकता है ।

jade plant in hindi

आर्द्रता Humidity

चूंकि यह पौधा मूल रूप से dry और arid places पर पाया जाता है इसलिए Portulacaria afra के लिए low humidity अच्छा रहता है ।

मिट्टी और वातावरण सूखा रहने पर जेड प्लांट अच्छा करते हैं ।

इसको ऐसी जगह रखना जहां पर humidity ज्यादा हो मिट्टी को सूखने से रोकता है जो जेड प्लांट को पसंद नही आता है ; इसलिए इसे बाथरूम जैसी जगहों पर न रखें ।

खाद Fertilizer

जब तापमान ज्यादा होता है तब जेड प्लांट सक्रिय रूप से growth कर रहा होता है इसलिए गरम मौसम में इसको भरपूर feeding की आवश्यकता रहती है ।

महीने में एक बार जेड प्लांट को liquid fertilizer देना जरूरी होता है इसके लिए आप घर पर ही liquid fertilizer बना सकते हैं या फिर seaweed fertilizer का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जब भी पौधे को खाद देना हो पौधों को कुछ समय पूर्व पर्याप्त रूप से पानी दें ताकि जड़ व मिट्टी moist हो जाए ; इससे जड़ों को मजबूती प्रदान होती है और तरल खाद को जड़ों द्वारा अच्छे से absorb किया जा सकता है ।

जाड़ों में खाद : जाड़ों के मौसम में जेड प्लांट dormant हो जाता है इसलिए इस मौसम में इसे खाद आदि न दें ।

जेड प्लांट को re-pot कैसे करें

जब भी जेड प्लांट को re-pot करना हो make sure कि मिट्टी पूरी तरह से सूख गई हो । re-pot करने के बाद भी तुरंत पानी न डालें कुछ दिन बाद ही डालें जब roots नए pot में settle हो जाए ।

जेड प्लांट propagate कैसे करें

जेड प्लांट को propagate करना बहुत ही आसान है । आमतौर पर इसकी छोटी 3-4 इंच की टहनी को मिट्टी में लगा देने मात्र से भी यह लग जाता है ।

सही तरीके से propagate करने के लिए आप (i)80% garden soil में 20% नदी की रेत मिला लें या (ii) 100% नदी की रेत में भी लगा सकते हैं jade plant in hindi

कटिंग की नीचे की 3-4 पत्तियाँ तोड़ दें , ज्यादा कटिंग को success मिले इसके लिए कटिंग के tip पर आप root hormone या फिर एलोवेरा जेल भी लगा सकते हैं ।

30-35 दिन बाद इन कटिंग में से roots निकल आएंगे जिनको आप transplant कर सकते हैं ।

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट करके जरूर बताएं , और नीचे दिये गए like बटन को जरूर दबाएँ , ऐसे ही पेड़-पौधों और गार्डेन से जुड़ी रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए hindigarden.com से जुड़े रहें , धन्यवाद ।

Happy Gardening..

Leave a Comment