कैक्टस की केयर कैसे करें | Cactus care in Hindi

कैक्टस की केयर कैसे करें Cactus care in Hindi

FamilyCactaceae
Common NameBarrel Cacti, Prickly Pear, Pincushion Cactus
Botanical NameCactaceae species

 

Cactaceae जिसे हम Cactus के नाम से भी जानते हैं अनगिनत पौधों का समूह है जो कई तरह के आकार और प्रकार मे आते हैं । इनका रख रखाव बहुत ही आसान है और अगर इन्हे सही कंडिशन प्राप्त हो तो  कुछ क़िस्मों मे फूल भी खिलते हैं

Cactus मुख्य रूप से Mexico और Southwestern U.S. के आसपास के इलाके के मूल निवासी हैं और ज़्यादातर houseplants की तरह उन्हें वही care की जरूरत होती है जो उन्हे अपने नैचुरल स्थान पर मिलती है ।

cactus care in hindi

चेतावनी

ज़्यादातर cactus मे sharp spines होते हैं जो हाथ या त्वचा मे लग जाने पर चुभ सकते हैं इसलिए इस पौधे को handle करने मे विशेष care का इस्तेमाल करना चाहिए , अगर छोटे बच्चे और pets हैं तो इन plants को इनकी पहुँच से दूर रखना चाहिए ।

प्रकाश Light

काफी ज्यादा bright indirect sunlight की जरूरत रहती है एक cactus के पौधे को अच्छे से ग्रो करने के लिए । इन indoor plants को काफी प्रकाश पसंद है, कुछ ऐसी भी किस्में होती हैं जो direct sunlight भी सह लेती हैं ।

पर direct sunlight मे रखते हुये इन्हें ध्यान बरतना चाहिए क्यूंकी पौधे को नुकसान पहुंचा सकते हैं विशेषकर नए पौधों को । इसलिए अच्छा है कि cactus को bright indirect sunlight मे ही रखा जाए ।

पानी Water

यह एक ऐसा पौधा होता है जो सूखी जगह पर पनपता है इसलिए इसे सूखापन पसंद है । इसकी मिट्टी भी ज़्यादातर सूखी रहनी चाहिए ।

आपको जरा सा भी लगे की मिट्टी मे नमी है तो पानी नहीं डालना चाहिए । पानी डालने के पहले जरूर देख लें कि मिट्टी बिलकुल सूख गई हो ।

लोग अक्सर यह गलती करते हैं कि जब वे रोज पौधों मे पानी डालते हैं इस तरह के पौधों पर भी बाकी पौधों के साथ पानी डाल देते हैं जिससे इनमे हमेशा नमी बनी रहती है । इसी कारण ज़्यादातर लोगो के कैक्टस के पौधे मर जाया करते हैं ।

cactus care in hindi
नागफनी का पौधा

गर्मी के मौसम यह विशेष ध्यान देना चाहिए कि जैसे ही नमी पूरी तरह से खत्म हो आप पौधों को तुरंत पानी दें क्योंकि इसी मौसम मे पौधों मे तेज़ ग्रोथ होती है इसलिए ज्यादा समय तक पौधों को सूखा भी नहीं छोडना चाहिए ।

सर्दियों मे Cacti बिना पानी के ज्यादा लंबी अवधि तक रह सकता है जब ये पौधे dormant हो जाते हैं ।

गार्डेनिंग के लिए जरूरी चीजें
Hand Gloveshttps://amzn.to/3zlKN1O
Trowel (खुरपी)https://amzn.to/38dnE5x
Hand Prunerhttps://amzn.to/3kpeicF
Garden Scissorshttps://amzn.to/38kA0J6
Spray Bottlehttps://amzn.to/2UQ7hch

वैसे ज़्यादातर cactus के लिए 1-2 महीने तक बिना पानी के रह सकते हैं जो उनके आकार और अन्य condition जैसे तापमान और रोशनी आदि पर निर्भर करता है ।

जब भी पानी दें मिट्टी से पूरी तरह से पानी निकाल जाने दें ,अगर गमले के नीचे saucer रखा है तो उसमें जमा पानी भी निकाल दें ।

कैक्टस ऐसे पौधे हैं जो root rot की समस्या से बहुत आसानी से ग्रसित हो जाते हैं अगर इन्हें जरूरत से ज्यादा पानी दिया जाए तो ।

प्रायः यह मानना जाता है कि over-water करने से अच्छा है कि under-water रहने दें , अगर पौधे मे dehydration के लक्षण नहीं दिख रहे तो एक दो दिन पानी डालने के लिए wait करने मे कोई हर्ज़ नहीं है ।

cactus care in hindi
अपने मूल क्षेत्र मे उसे हुये cactus

तापमान Temperature

वही गरम तापमान जो cactus को उसके natural habitat मे मिलता है , हमेशा रास आता है चाहे आप उसे गार्डेन मे लगाए या कहीं और ।

सामान्य रूप से 10 डिग्री C से ऊपर तापमान ठीक माना जाता है , अगर 20 के ऊपर तापमान रहता है तो यह आदर्श तापमान माना जा सकता है ।

Chill कर देने वाली हवाएँ इसके लिए दिक्कत पैदा कर सकती हैं , इसलिए जब ज्यादा सर्दियाँ चल रही हो तो इन्हें खुले मे रखने से बचें ।

आर्द्रता Humidity

कैक्टस के लिए Dry conditions बेस्ट रहते हैं , Cacti नमी को बर्दाश्त नहीं करते हैं और वो वहाँ रहना पसंद करते हैं जहां हवा मे नमी न के बराबर हो ।

यही कारण है कि कई लोगों के कैक्टस बरसात मे खराब होने लगते हैं और ज्यादा लपरवानी होने पर वह मर भी जाते हैं ।

इसे ऐसी जगह रखने से बचें जहां पर लगातार नमी बनी रहती है जैसे bathroom या किचन ।

खाद Fertilizer

खाद भी बहुत आवश्यकता कैक्टस को नहीं होती है , पर आप इसके growing सीज़न मे liquid fertilizer का प्रयोग कर सकते हैं जिससे इसमे नई gowth को बढ़ावा मिल सके ।

जाड़े मे जब यह ज्यादा actively ग्रो नहीं करता है इसे किसी प्रकार का खाद नहीं दिया जाना चाहिए ।

गार्डेनिंग के लिए जरूरी चीजें
Watering Canehttps://amzn.to/3gAeQeE
Cocopeathttps://amzn.to/2Ww7MJb
Neem Oilhttps://amzn.to/3B9yUMI
Seaweed Fertilizerhttps://amzn.to/3gy48Fq
Epsom Salthttps://amzn.to/3mwYWFT

Pro Tips

1-चूंकि यह एक slow growing प्लांट है Cacti को हर दूसरे साल repot किया जाना एक अच्छी प्रक्रिया मानी जाती है । पर ऐसा नहीं कि आप यदि अपने cactus को नियमित रूप से repot नहीं कर पा रहे हैं तो कोई समस्या आ जाएगी ।

इसलिए repot करने के लिए चिंतित नहीं होना चाहिए पर जब भी करें तो इत्मीनान से करे और अच्छे gloves पहन ही करें ।       नया pot पुराने से 1-2 इंच बड़ा ही होना चाहिए ।

2-जाड़ों मे होने वाली dormancy या आराम के समय से पौधे मे नए ग्रोथ मे सहायता मिलती है । इस समय पौधे को कम पानी दें ताकि उसे आराम का मौका मिल सके। पौधे को winter मे ऐसी जगह रखने से बचे जहां बहुत ज्यादा तापमान रहता हो ।

3-जो पौधे बहुत पुराने या mature हो जाते हैं उनमे से नए पौधे या pups निकालने कि संभावना रहती है जिनसे आप अलग करके नए पौधे बना सकते हैं । सबसे अच्छा यह रहेगा कि जब आप repot कर रहे हो उसी समय इस तरह नए पौधे अलग कर लें ।

नया पौधा अलग करने के लिए एक अच्छा चाकू या shears का प्रयोग करना चाहिए । नए pups को काटकर 2-3 दिन के लिए अलग रख देना चाहिए जिससे उसका cut end थोड़ा कठोर हो जाए उसके बाद उसे आप उसके pot मे लगा दें।

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट करके जरूर बताएं ।पेड़ पौधो के बारे मे ऐसी ही कई रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए hindigarden से जुड़े रहिए ।

Happy Gardening

Leave a Comment