अक्टूबर मे लगने वाले इन फूलों को अभी लगा लें I October Flower List

हम यहाँ आपको उन फूलों की लिस्ट देने जा रहे हैं जिनके फूल अक्टूबर के महीने में खिलते हैं, अगर आपको यह फूल अक्टूबर के महीने में अपने गार्डन में चाहिए तो आपको इनके पौध कुछ दिन पहले नर्सरी से खरीद कर लगाना होगा या फिर बीज से भी लगा सकते हैं।

हमारे बताए गए पौधों में कुछ पौधे बहूवर्षीय भी हैं जो कि आपको साल भर फूल देंगे, इन पौधों को कटिंग से लगाने के लिए आप नर्सरी से पौधा खरीद लें और यदि बीज से लगाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए पहले से तैयारी करनी होगी। आइए बिना देर किए हुए जानते हैं अक्टूबर के महीने में लगाने वाले पौधों के नाम।

अक्टूबर के महीने में लगने वाले फूल

Periwinkle (सदाबहार)

सदाबहार या vinca बहुत ही सामान्य सा पौधा है जो गरीबों के समय में अधिक खोल देता है और आपको हर घर में देखने को मिल जाएगा। यह एक बहुवर्षीय पौधा होता है। सदाबहार की हाइब्रिड वैरायटी आपको नर्सरी में आसानी से मिल जाएगी इस पौधे को आप कटिंग या बीज दोनों ही तरीकों से लगा सकते हैं। इसकी दूसरी वैरायटी आमतौर पर सफ़ेद और हल्के पर्पल कलर मे आते हैं जबकि हाइब्रिड कई रंगो मे मिल जाते हैं पर हाइब्रिड पौधे अधिक गर्मी सहन नहीं कर पाते और मर जाते हैं।

Peony (पिओनी)

पिओनी के फूल एशियाई मूल के हैं और इनका बायोटैनिकल नाम Paeonia है, यह बारहमासी फूल है और वसंत के महीने में खिलते हैं। यह फूल देखने में गुलाब की तरह लगते हैं इसमें कई रंगों के फूल आते हैं जैसे की पीले लाल गुलाबी सफेद नारंगी आदि।

Lily (लिली)

लिली का पौधा लगभग सभी लोग अपने घर में लगाते हैं, इसमें आपको 40 से भी अधिक प्रजातियां मिलती हैं। लिली के फूल सबसे ज्यादा वसंत और ऋतु के मौसम में खिलते हैं, लिली की प्रजातियां के हिसाब से यह कई रंगों के होते हैं, लाल गुलाबी सफेद पीले नारंगी सामान्य रूप से हर जगह पाए जाते हैं। इनके फूल आकार में छोटे होते हैं लेकिन प्रजातियों के अनुसार कुछ गुच्छों में खिलते हैं तो कुछ अकेले खिलते हैं, इसके हर एक फूल में 6 पंखुड़ियां होती हैं।

Mangolia (चंपा)

मंगोलिया को चंपा के फूल के नाम से भी जाना जाता है जो कि दिखने में बहुत ही खूबसूरत और आकर्षक होता है। यह फूल बड़े पेड़ों में खिलता है और बहुत ही सुगंधित होता है, इस पौधे के फूलों में 7 से 10 पंखुड़ियां होती हैं जिसमें गुलाबी बैगनी पीले और सफेद रंग के फूल खिलते हैं।

Dahelia (डहेलिया)

डहेलिया के फूल का ही खूबसूरत लगते हैं, यह फूल गुलाबी, पीले, नारंगी, सफेद बैगनी आदि रंगों में पाए जाते हैं केवल नीले रंग के फूल इसमें नहीं होते हैं। इस पौधे के फूल की खास बात यह है कि इसके फूल गेंदे की तरह गोल होते हैं और सूरजमुखी की तरह दिखाई पड़ते हैं। इस पौधे के पत्ते गाढ़े हरे रंग की होते हैं, और इस पौधे की खेती करने के लिए आपको डंडे की जरूरत पड़ती है क्योंकि यह पौधा बहुत ही नाजुक होता है।

Poppy (पोस्ता)

पोस्ता का फूल सादगी के लिए जाना जाता है, यह फूल 5 पंखुड़ियों में खिलता है इसमें लाल गुलाबी पीले सफेद और नारंगी रंग के फूल खिलते हैं लेकिन इस पौधे को बीज से ही लगाया जाता है आपको बता दें कभी-कभी इस पौधे में फूल दो रंगों में भी खिलते है।

Pancy (पैंसी)

पैंसी के फूल बेहद खूबसूरत लगते हैं यदि इसे आप अक्टूबर के महीने में नहीं लगाएंगे तो पूरे साल नहीं लगा पाएंगे क्योंकि यह पौधे बीच समय पर नहीं लगते हैं। इस पौधे को कंपोस्ट वाली बढ़िया मिट्टी में लगाना चाहिए ताकि इसमें अच्छी तरह से फ्लावरिंग हो फूल का आकार छोटा होता है लेकिन इसमें डबल शेडेड रंग में फूल खिलते हैं जो देखने में बेहद खूबसूरत लगते हैं।

Geranium (जेरैनियम)

जेरैनियम के पौधे को क्रेनबाल भी कहा जाता है और इसमें 400 से अधिक प्रजातियां होती हैं। इसे कटिंग या बीज से लगाने का सही समय अक्टूबर का महीना होता है तभी नवंबर के महीने से अप्रैल के महीने तक इसमें फूल आते हैं। इसके फूल दो लेयर में आते हैं एक सिंगल लेयर और दूसरा डबल लेयर। डबल लेयर के फूल हाइब्रिड वैरायटी के होते हैं, यह गुच्छों में खिलते हैं और आकार में छोटे होते हैं। आमतौर पर इसमें लाल पीले गुलाबी सफेद नारंगी बैगनी आदि रंग आते हैं।

Kalanchoe (कलांचोए)

कलांचोए का पौधा बीज और कटिंग दोनों तरीकों से लगाया जाता है लेकिन आप इसे बीज से लगाना चाहते हैं तो सितंबर के महीने में लगा ले और अगर आप इसे कटिंग से लगाना चाहते हैं तो अक्टूबर तक का इंतजार करें। इसके फूलों का आकार छोटा होता है और इसके फूल गुच्छों में खेलते हैं। इसमें कई रंग के फूल खिलते हैं जैसे कि लाल, पीले, नारंगी, गुलाबी, सफेद आदि।

Marigold (गेंदा)

गेंदे के फूल को आप मई के महीने से लेकर सितंबर के महीने तक लगा सकते हैं। यह फूल कई आकार और रंगों में आते हैं। गेंदे के पौधे को आप लेयरिंग, कटिंग और बीज तीनों ही तरीकों से लगा सकते हैं। गेंदे के फूल की दो प्रजाति होती है फ्रेंच और अफ्रीकन।

अपराजिता (Aparajita)

अपराजिता का फूल लोगों को बहुत ही ज्यादा पसंद आता है और अपराजिता का पौधा जुलाई के महीने में ही बहुत अच्छे से विकसित होता है इसके बीज से पौधा लगाना काफी ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि बरसात में यह पौधा बहुत अधिक लंबा जाता है इस पौधे में हल्की पर्पल शेड में फूल आते हैं।

Ixora (इक्सोरा)

इक्सोरा के पौधे जून और जुलाई के महीने में अच्छे से विकसित होते हैं इन पौधों में लाल रंग के गुच्छे में फूल आते हैं जो कि देखने में बेहद खूबसूरत लगते हैं और गार्डन की शोभा बढ़ाते हैं।

Allamanda (सुनहरा तुरही)

अल्लामांडा के फूल को सुनहरा तुरही भी कहा जाता है, इस पौधे का वास्तविक नाम Allamanda cathartica है। इस पौधे के फूल पीले रंग के होते हैं, इस पौधे में फ्लावरिंग वसंत और ऋतु के महीने में होती है।

Purslane (पर्सलेन)

पर्सलेन गर्मी में फूल देने वाला पौधा है, अगर इस पौधे को हम जून के महीने में लगा देते हैं तो यह पौधा हमें नवंबर के महीने तक फूल देता है इसमें आपको गुलाबी रंग के फूल खिलते हुए नजर आते हैं और इस फूल की महक बहुत ही मनमोहक रहती है।

Pentas (पेंटस)

पेंटस एक बहूवर्षीय पौधा है, और यह रूबियासी परिवार से जुड़ा हुआ है। इस पौधे में तारों के आकार में फूल खिलते हैं इसके फूल लाल सफेद गुलाबी रंग के गुच्छों में खेलते हैं। इसके फूल की सुगंध बहुत ही अच्छी होती है।

Desert Rose (रेगिस्तानी गुलाब)

रेगिस्तानी गुलाब को अडेनियम का पौधा कहा जाता है इसमें फ्लावरिंग ठंड में होती है इसीलिए इसे अक्टूबर के महीने में लगाया जाता है इसमें आपको गुलाबी लाल सफेद रंग के फूल मिलते हैं। इसे आप चाहे तो कटिंग से भी लगा सकते हैं। इसके पौधे की देखरेख करना बहुत ही आसान है और इसके फूल बेहद खूबसूरत लगते हैं।

Ruellia (रूएलिया ट्यूबरोसा)

रूएलिया ट्यूबरोसा का पौधा छोटा और लंबा दोनों ही आकार में होता है, यह एक सदाबहार यानी की बारहमासी फूल देने वाला पौधा है। इसके फूल गुच्छों में खिलते हैं और सामान्य रूप से बैगनी रंग के होते हैं।

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट करके जरूर बताएं ,  ऐसे ही पेड़-पौधों और गार्डेन से जुड़ी रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए hindigarden.com से जुड़े रहें , धन्यवाद ।

Happy Gardening..

Leave a Comment