10 फायदे जो आपको गार्डेनिंग से होते हैं | Benefits of Gardening in Hindi

Gardening करने के इतने फायदे हैं कि जानकर आप हैरान हो जाएंगे, Gardening करने के 10 फायदे आपको कुछ पता भी होंगे पर आपने notice नहीं किया होगा, और जब आप gardening करने लगेंगे तब आपको इसके महत्व का सही अंदाजा लगेगा।

इन्हीं में से कुछ फायदे मैं आपको बताता हू जिन्हें जानकर मुझे पूरी उम्मीद है कि आप जल्द ही Gardening शुरू करेंगे, वैसे मॉनसून का मौसम सबसे मुफीद है इस काम के लिए.

Gardening प्रेम की तरह है आप इसे जबरदस्ती नहीं कर सकते ये बस हो जाता है और एक बार हो गया तो फिल्मी प्रेम के लेवल से भी ऊपर निकल जाता है.

आप बार बार अपने पौधों को, फूलों को, कलियों को देखने जाते रहते हैं, सुबह होते ही सबसे पहले अपने गार्डन मे जाते हैं उनकी फोटो क्लिक करते हैं, इधर उधर share भी करते हैं.


पौधों को क्या देना है क्या नहीं देना है इसका खयाल रखते हैं आप, धूप बारिश में अपने गार्डन का सही इंतजाम करते हैं और कभी कहीं कोई पौधा आपकी लापरवाही से मर जाये तो आपको काफी दुख होता है.

वैसे बहुत से ऐसे लोग भी हैं जिन्हें Gardening का शौक नहीं है पर शायद ही ऐसा कोई हो जो हरियाली देखकर, पौधों फूलोँ को देखकर खुश न हो जाता हो, हर किसी को एक खूबसूरत बगीचा या बालकनी आकर्षित करती है.

1-आपके घर को खूबसूरत बनाता है

हरे भरे पौधों या रंग बिरंगे फूलोँ को देखकर सबका दिल बाग बाग हो जाता है, घर छोटा हो या बड़ा एक एक ग्रीन कॉर्नर घर को बिलकुल ही अलग Look देता है ,किसी को कोई फोटो भी क्लिक करनी होती है तो लोग उसी के पास जाकर फोटो क्लिक करवाते हैं.

Instagram पर पौधों या gardening से related अकाउंट को देखते हुए जो सुकून मिलता है उसकी अलग ही बात है. एक ceramic pot में लगा मनी प्लांट का पौधा भी किसी महंगे Decoration आइटम से ज्यादा खूबसूरत और catchy लगता है.

2- कैलोरी बर्न करने के लिए सर्वोत्तम

हम अपने शारीर को जितना कष्ट देंगे ये उतना ही अच्छा होता जाएगा मज़बूत होता जाएगा, पर ये भी सच्चाई है कि हममें से काफी लोग वर्क आउट के बारे मे सोचते रहते हैं पर कभी ठीक से कर नहीं पाते, शुरू करते भी है तो कुछ दिन बाद छूट जाता है.

हेल्थ से जुड़े विषयों की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें ।

Gardening में आपको बार बार उठना बैठना पड़ता है गमले उठाकर इधर उधर करना होता है, आप जितना समय देंगे अपने Garden में कुछ न कुछ calories बर्न होती रहेंगी. सुबह शाम 30-30 मिनट देना अच्छा रहेगा हाँ पर आप ये न करें कि कुर्सी पर बैठकर पाइप से पानी डालते रहे पौधों को।

3- डिप्रेशन कम करने का सबसे आसान तरीका

वर्तमान समय मे अलग अलग कारणों से कई लोग डिप्रेशन के शिकार हैं, कई लोगों को यह पता भी नहीं की वो इस बीमारी से ग्रस्त हैं. आपको चाहे पता हो या न पता हो फिर भी अगर आपका मन एक लंबे समय से बेचैन रहता हो, मन उदास रहता हो हमेशा तो डॉक्टर को दिखाने के साथ साथ gardening में सुबह शाम समय दीजिए ।

अगर Garden नहीं है तो कुछ पौधे ले आइए जिनमे से एक फूल का जरूर हो जिसका सीजन आने वाला हो तथा एक गमले में घर में ही मिलने वाले चने या सरसों के बीच बो दीजिए.

इन्हें अपने बच्चों की तरह देखभाल करें, रोज सुबह शाम देखें, फोटो खींचे और एक डायरी maintain करें और date डालकर इनका daily improvement लिखते रहे और साथ ही यह भी लिखें की आपको कैसा लग रहा है. आप को इस प्रक्रिया का जादुई असर देखने को मिलेगा।

4-अलग व्यक्तित्व बनाने में सहायक

आप माने चाहे न माने gardening करने वालों की एक अलग पहचान होती है. पर इसके लिए आपको खुद gardening करने होती है न कि माली से करवाना.

दुनिया मे लाखों करोड़ों फूल पौधे हैं पर दुनिया मे कुछ लाख लोग ही होंगे जो ठीक से 100 फूल पौधों के बारे मे ठीक से जानकारी रखते हों. आप चाहें तो अपने आसपास टेस्ट करके देख लीजिये.

आपके आसपास Politics, Sports, Bollywood ,Fashion ,Technology आदि के बारे मे बात करने वाले तो सैकड़ों मिल जाएंगे पर फूल पौधों पर discuss करने वाले शायद ही मिलें..

एक बार आप gardening शुरू कर दीजिए और लोगों से आम चर्चा मे फूलोँ पौधों की किस्म रंग सीजन की चर्चा करते रहिये तो देखिये लोग खुद ही कहेंगे ”अरे आपको तो बहुत जानकारी है फूल पौधों के बारे मे’ ‘ ये complement आपको शायद अन्य field की चर्चा करते समय शायद न मिले.


अगर आपको 100 फूल पौधों के बारे मे गहरी जानकारी है तो समझिए की आपकी जानकारी अच्छी है वैसे home gardening मे दुनिया भर मे उसे होने वाले फूल पौधों की किस्म और संख्या लाखों मे होगी।

5-प्रकृति के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने का साधन

आप ने भले ही कभी ये ध्यान दिया हो चाहे न दिया हो हमारे पास जो भी कुछ है वो सब हमे इसी प्रकृति इसी धरती से मिला है चाहे साँस लेने के लिए हवा हो या जिस mobile को आप use कर रहे उसको बनाने मे use हुआ एक एक particle सब प्रकृति से मिला है. इसलिए हमारा कुछ तो वापस करने का फर्ज बनता ही है. इसको वापस करने का सबसे आसान तरीका Gardening ही है.

आप अगर एक पौधा भी लगाते हैं तो उससे ज्यादा नहीं तो थोड़ी मात्रा में Oxygen तो निकलेगा ही. आप यही सोचकर कुछ पौधे लगा सकते हैं कि मैं nature को उससे लिया हुआ oxygen वापस कर रहा हू, कुछ संतुष्टि तो आपको मिलेगी ही इस प्रदूषण और जहरीली गैसों के बीच आप कुछ अच्छा काम कर रहे हैं, बाकी आपको और फायदे तो मिलेंगे ही gardening से.

6-Organing फूड घर पर ही

सभी को पता है की आजकल फलों और सब्जियों मे काफी मिलावट रहती है क्यूंकी उन पर केमिकल का प्रयोग काफी होने लगा है ,जाहिर सी बात है यह हमारे और हमारे परिवार की सेहत के लिए अच्छा नहीं है ।इसीलिए कुछ सालों से Organic Foods का चलन बढ़ गया है ।

Organic फूड की खेती मे रसायनों का प्रयोग नहीं किया जाता है , इसी कारण यह महंगा मिलता है , आप चाहे तो घर पर ही छोटे स्तर पर कुछ गमलों के साथ Organic तरीके से सब्जियों को उगा सकते हैं ।

7- Waste Management कर सकते हैं

जब आप Gardening की शुरुआत कर लेते हैं तो यकीन मानिए घर से निकले लगभग हर waste को आप उसे कर सकते हैं सिवाय प्लास्टिक के ,हो सकता है प्लास्टिक भी किसी रूप मे किया जा सकता हो पर अन्य चीजें जैसे किचन का waste , कागज,काँच की बोतल,तरह तरह के containers और बहुत कुछ ।

भारत मे करोड़ों टन कचरा सड़कों ,नालियों,नदियों हर जगह पड़ा रहता है । अगर हम सब थोड़ा थोड़ा सा भी प्रयास करें तो ये समस्या काफी हद तक control की जा सकती है ।हम अपने घर का गीला कचरा तो रीसाइकल कर ही सकते हैं ।

किचन वेस्ट से बनने वाले compost की महत्ता को देखते हुये ही उसे black gold भी कहा जाने लगा है ।आप जब अपने कचरे से compost बना कर उसे use करेंगे तो आप को यह करिश्मा ही लगेगा .

8- Creativity दिखाने का मौका

अगर आप creative हैं तो आप gardening के माध्यम से अपनी क्रीएटिविटि दिखा सकते हैं चाहे घर के लिविंग रूम को सजाने की बात हो या फिर घर से निकालने वाले यूज्ड या वेस्ट items से planter या ऐसा ही कुछ और बनाने की ।

आप काँच की bottles से तरह तरह के planters बना सकते हैं ।कोल्ड ड्रिंक या बियर केन से भी प्यारे प्यारे planters बनाए जा सकते हैं। कई YouTube चैनल हैं जिनसे आप नए नए ideas देख सकते हैं ।

9-फ़ैमिली के साथ quality टाइम बिताने का अवसर

फॅमिली के साथ अगर आप अपने गार्डेन मे समय बिताते हैं तो इससे शायद ही अच्छा कुछ और होगा ।Nature के करीब रहना और बच्चों को उसकी importance को बताने का यही तरीका है की आप कुछ पौधों की ज़िम्मेदारी बच्चो को दे दें की अमुक पौधा तुम्हारा है और इसकी देखभाल तुम्हें ही करना है ।

बच्चों को पौधों के नाम और उनका बारे मे बताए किस सीजन मे कौन सा पौधा लगाया जाता है , उनकी देखभाल कैसे की जाती है । इससे भविष्य मे वो भी अपने जीवन मे गार्डेनिंग को एक अहम स्थान दे सकेंगे ।

10- Gift देने के लिए सर्वोत्तम

कुछ सालों से पौधों को गिफ्ट item की तरह देने का चलन शुरू हो गया है । ऑनलाइन डेलीवेरी के कारण यह अब और ज्यादा पोपुलर होता जा रहा है ।अपने किसी चहेते को आप अगर घर मे तैयार किया पौधा देते हैं तो इससे अच्छा गिफ्ट क्या हो सकता है ।

कई ऐसे plants ऐसे हैं जिन्हें आप घर पर ही गमले मे सजा कर अपने दोस्त या चाहने वाले को दे सकते हैं, इनमे money plant सबसे ऊपर है , कुछ Cactus तथा Lily के bulbs भी आप किसी छोटे pot मे लगाकर दे सकते हैं । इससे मिलने वाले personal touch को गिफ्ट पाने वाला काफी लंबे समय तक याद रखता है ।पौधे को देखकर उसकी यादें ताज़ा होती रहती हैं ।

               उम्मीद है आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होगा , अगर अभी आप गार्डेनिंग के शौक को जमीन पर नहीं उतारा है तो अब शुरू कर दीजिये । इतने फ़ायदे मैंने गिना दिये कुछ तो आप पर लागू होते ही होंगे ।यदि आप कुछ इसमे Add करना चाहे तो comment करके मुझे बता सकते हैं ।

3 thoughts on “10 फायदे जो आपको गार्डेनिंग से होते हैं | Benefits of Gardening in Hindi”

Leave a Comment