टर्टल वाइन से घर को ज्यादा आकर्षक कैसे बनाए | Turtle Vine Plant in Hindi

अगर आप घर को हरा भरा जंगल जैसा बनाना चाहते हैं तो एक पौधा जो आपकी सहायता सबसे ज्यादा कर सकता है और वो भी बहुत कम टेंशन या केयर के साथ वो है टर्टल वाइन प्लांट Turtle Vine Plant in Hindi

वैसे आपको शायद पता न हो कि यह एक succulents की श्रेणी मे आता है पर इसमे ज्यादा देखभाल की जरूरत नही होती और यह सूखता भी नहीं है जबकि ज़्यादातर अन्य सकुलेंट मे सूखने का डर बना रहती है ।

Turtle Vine Plant in Hindi
Turtle Vine leaves
वानस्पतिक नामCallisia repens
अन्य नामCreeping Inchplant, Bolivian Jew
फैंमिलीCommelinaceae
मूल स्थानमध्य / दक्षिण अमेरिका
प्रयोगसजावटी पौधा

इसकी एक लता से ही दर्जनों लताएँ निकलती रहती हैं जिनकी लंबाई आधे मीटर से एक मीटर तक जाती है और कुछ ही हफ्तों मे पूरा गमला भर जाता है ।

अगर आप इसे hanging plant मे लगाते हैं तो हरी भरी लताएँ लटकती हुई बहुत ही सुंदर लगती हैं और आपके घर बालकनी की खूबसूरती को काफी बढ़ा देती हैं ।

सर्दियों मे लगभग सूख कर समाप्त ही हो जाता है पर आप इसे फेंके नही गरमियाँ आते ही यह फिर हरा होने लगता है , कई लोग यह समझ इसे फेंक देते हैं कि उनका पौधा सूख गया ।

टर्टल वाइन के लिए आवश्यक बातें 

धूप Sunlight

यह पौधा bright indirect light मे अच्छे से ग्रो करता है , उत्तर भारत मे जब तापमान 40 डिग्री से ज्यादा चला जाता है तब इसे तेज़ धूप से बचाना चाहिए ।

वैसे यह सामान्य direct sunlight को भी बर्दाश्त कर लेता है । आप इसे साउथ या वेस्ट फेसिंग बालकनी या विंडो के पास hanging basket मे लटका सकते हैं।

सुबह सिर्फ 2-3 घंटे की धूप भी इसके लिए बहुत अच्छी रहेगी ।

Turtle Vine Plant in Hindi

पानी Water

इस पौधे को थोड़े बहुत नमी वाली मिट्टी चाहिए होती है ,लेकिन इतना भी पानी न हो कि मिट्टी soggy हो जाए ।

जैसे कि पानी देने का बताया गया फॉर्मूला है कि पानी तभी दे जब मिट्टी की ऊपरी सतह 2 इंच तक छुने पर सूखी लगने लगे।

फालतू पानी देने से बचे , ठंड आने पर बहुत कम पानी डालें क्यूंकी इस समय यह dormant होकर पीला होने लगता है और इसमे काफी कम पत्तियाँ बचती हैं ।

मिट्टी Soil

टर्टल वाइन के लिए ऐसी मिट्टी तैयार करना होता है जिसमे पानी बिलकुल न रुके ।

इसकी मिट्टी वैसी ही होने चाहिए जैसी कि कैक्टस या succulents की बनाई जाती है , इसके लिए आप गार्डेन सॉइल 40% , कम्पोस्ट 20%, बालू 20% और 20% परलाइट मिला सकते हैं ।

Turtle Vine Plant in Hindi

टर्टल वाइन के लिए जलवायु Climate

इस पौधे को थोड़ा गरम मौसम ही पसंद है , आप गरम स्थान पर रहते हैं तो कोई दिक्कत नहीं है । जब भी सर्दियाँ शुरू हो तो इसे indoor रखना सही रहेगा , बहुत ज्यादा सर्दी पड़ने पर यह मर सकता है ।

टर्टल वाइन की एक्सट्रा केयर

खाद Fertilizer

गर्मियों मे यह तेज़ी से ग्रो होता है इस समय इसे एक बढ़िया liquid fertilizer दिया जाना चाहिए , इसके लिए आप seaweed fertilizer या Epsom salt का यूज़ किया जा सकता है ।

प्रूनिंग Pruning

हैंगिंग बास्केट मे लटका टर्टल वाइन मे अगर कम पत्तियाँ होंगी तो वह अच्छा नहीं लगता है , वैसे यह बहुत तेज़ी से ग्रो करता है पर अगर आप जल्दी इसे bushier बनाना चाहते है तो आप pruning करके ऐसा कर सकते हैं ।

इसके लिए आप इसकी टहनियों की tip को prune कर दें यानि उसे हाथ से या कैंची से कट कर दें ।

Turtle Vine Plant in Hindi

कीट रोग आदि Pest /Diseases

वैसे इसमे पेस्ट की समस्या कम ही देखी जाती है पर जड़ों के सड़ने की समस्या हो सकती है ,इससे बचने के लिए आप ऐसे गमले का प्रयोग करे जिसमे नीचे holes जरूर बने हो और पौधे मे पानी डालने पर पानी तुरंत नीचे से निकल जाए ।

अगर पौधे पर किसी प्रकार के कीट दिखाई दें तो उसे तेज़ धार वाले स्प्रे बॉटल से स्प्रे करें , इसके अलावा नीम ऑइल का भी प्रयोग कर सकते हैं ।

टर्टल वाइन से घर को ज्यादा आकर्षक कैसे बनाए

इस लता को आप इन तरीकों से लगाएँ जिससे आपका घर ज्यादा आकर्षक लगने लगे ।

  • अगर कोई ऐसी खिड़की हो जिस पर ठीक ठाक धूप आती हो तो आप घने turtle plant से भरे 2-3 गमले बाहर की तरफ लटकते हुये लगा सकते हैं,जिससे बाहर से आप का घर काफी आकर्षक लाग्ने लगेगा ।
  • इसके अलावा hanging basket मे इसे लगाकर आप घर के एंटरेंस पर लगा सकते हैं या फिर फिर बालकनी मे 2-3 जगह पर लगा सकते हैं बस आपको यह ध्यान रखना है की वहाँ पर धूप आती हो ।

Turtle Vine Plant in Hindi

पुराने पौधे से नया पौधा कैसे बनाएँ Propagation

आप इस पौधे की छोटी सी कटिंग से भी बहुत आसानी से नया पौधा बना सकते हैं , आपको बस इसकी 4-6 इंच की एक stem काटना है और इसे अच्छे potting mix मे लगा देना है ।

कटिंग लगाने के बाद मिट्टी मे हमेशा थोड़ी नमी बना कर रखे और पौधा indirect sunlight मे रखें ।

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमे कमेन्ट करके जरूर बताएं , और नीचे दिये गए like बटन को जरूर दबाएँ , ऐसे ही पेड़-पौधों और गार्डेन से जुड़ी रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए hindigarden.com से जुड़े रहें , धन्यवाद ।

Happy Gardening..

Leave a Comment